Breaking

गुरुवार, 5 अक्तूबर 2017

रोहिंग्या मुसलमानों के कैम्प से आई एक मासूम की तस्वीर जिसकी सच्चाई बेहद ही खौफनाक है


जब म्यांमार में रोहिंग्या मुस्लिमों पर यौन उत्पीड़न करने के आरोप लगा तो वहां के बहुसंख्यक समुदाय और रोहिंग्या मुस्लिमों के बीच सांप्रदायिक शत्रुता शुरू हो गई. जिसके बाद मुस्लिमों के प्रति बौद्धों का रुख इतना सख्त हो गया कि उन्हें म्यांमार से पलायन करने पर मजबूर होना पड़ा. इसके बाद सारी दुनिया रोहिंग्या मुस्लिमों के प्रति तरस भरी निगाहों से देखने लगी. UN ने भी कहा कि रोहिंग्या मुस्लिम दुनिया के सबसे प्रताड़ित किये जाने वाले लोग हैं. अब यही रोहिंग्या मुसलमान भारत आते हैं तो भारत के भी दो हिस्से नज़र आये. एक उन लोगों का जो रोहिंग्या मुसलमानों को पनाह देने की पैरवी करता है दूसरा वो जिन्हें लगता है रोहिंग्या देश के लिए खतरा हैं.

रोहिंग्या मुस्लिमों के प्रति कई देशों ने मानवीय दृष्टि से देखा लेकिन रोहिंग्या मुस्लिम जिस तरह से दूसरे देशों में घुसे वो गैरकानूनी था. ऐसे में भारत में आए रोहिंग्या मुस्लिमों के प्रति भारत सरकार के रुख को देखते हुए भारत के ही कुछ नेताओं ने सवाल उठाने शुरू कर दिये, ये जाने बिना कि सरकार ऐसा कर क्यों रही है. कुछ नेताओं पर तो ये आरोप भी लगे हैं कि वोट बैंक के चक्कर में वो इन रोहिंग्या मुस्लिमों को भारत में रखना चाहते हैं. कुछ नेता सांप्रदायिक समानता के कारण इनसे सहानुभूति रखते हैं. इन नेताओं ने सरकार के फैसले के बाद खूब हंगामा मचाया था.

इन्हीं सब के बीच अभी एक तस्वीर सोशल मीडिया पर वायरल हो रही है जिसमे नजर आने वाली बच्ची 9 साल की बताई जा रही है. उम्र नौ साल और बच्ची गर्भवती है. जी हाँ सुनने और देखने में आपको भी अचरज होगा लेकिन तस्वीर यही सच्चाई बयां कर रही है. हालाँकि हम इस तस्वीर की कोई पुष्टि तो नहीं करते लेकिन अगर तस्वीर सच है तो ये यकीनन खौफनाक है.


तस्वीर के कैप्शन में जानकारी देते हुए लिखा है कि, “ये तस्वीर UN के रोहिंग्या कैंप की है जहाँ ये 9 साल की बच्ची गर्भवती है.” तस्वीर में आगे लिखा है कि, ” ये बच्ची इस्लाम का जीता-जागता प्रमाण है.”  तस्वीर वाकई दुखद है और अगर ऐसा सच है तो अप ही सोचिये जिस उम्र में बच्चे हँसते-खेलते हैं उस उम्र में इस मासूम को गर्भवती कर दिया गया? आखिर इस बच्ची के साथ इतना गलत करने वालों के ईमान मर चुके हैं क्या?

कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें

Advertisement :

loading...