Breaking

बुधवार, 18 अक्तूबर 2017

इस मिली भगत के खुलासे के बाद रोहिंग्या मुसलमानों के समर्थक गायब हो जाएंगे !

इस मिली भगत के खुलासे के बाद रोहिंग्या मुसलमानों के समर्थक गायब हो जाएंगे !

देश में रोहिंग्या मुसलमानों को शरण देने के लिए बहुत बहस चल रही है। रोहिंग्या मुसलमानों के मुद्दे पर मोदी सरकार ने अपना रुख भी साफ़ कर दिया है कि देश की सुरक्षा के लिए वह किसी तरह का खतरा मोल नहीं ले सकते हैं। मोदी सरकार ने सर्वोच्च न्यायलय में भी इसको लेकर हलफनामा दाखिल कर दिया है। जिस पर कोर्ट 21 नवंबर को सुनवाई करेगा कि इन मुसलमानों को लेकर अब नागालैंड पुलिस की खुफिया इकाई ने एक खुलासा किया है।


नागालैंड पुलिस की खुफिया इकाई ने इन मुसलमानों को लेकर बताया है कि रोहिंग्या मुसलमानों द्वारा स्थानीय लोगों पर हमला किया जा सकता है। प्रमुख समाचार एजेंसी एएनआई ने नागालैंड पुलिस की खुफिया इकाई के हवाले से दावा किया है दीमापुर गाँव के एक इमाम के रोहिंग्या विद्रोहियों से संपर्क हैं। खुफिया इकाई के मुताबिक़ रोहिंग्या मुसलमानों से राष्ट्रीय सुरक्षा को खतरा है। पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी, ओवैसी और वामपंथी नेता लगातार रोहिंग्या मुसलमानों को देश में शरण देने की बात कर रहे हैं।

रोहिंग्या मुसलमानों को लेकर अब नागालैंड पुलिस की खुफिया इकाई ने एक खुलासा किया है।

नागालैंड पुलिस की खुफिया इकाई के मुताबिक़ ये उग्रवादी बांग्लादेश से बहुत अधिक मात्रा में हथियार और गोलाबारूद हासिल करने की लगातार कोशिश कर रहे हैं। खुफिया इकाई की रिपोर्ट के मुताबिक करीब दो हजार रोहिंग्या मुसलमानों को बाहर किए जाने पर नगा लोगों के खिलाफ हथियार उठाने के लिए तैयार हैं। ओवैसी ने रोहिंग्या मुसलमानों को लेकर एक बयान भी दिया, जिसमें उन्होंने कहा कि पूरी दुनिया यह जानती है कि रोहिंग्या देशविहीन और बेदखल किए गए लोग हैं। वह 1947 के बाद से सभी मानवाधिकारों से वंचित हैं। जब यह सच्चाई उन लोगों को पता चलेगी कि रोहिंग्या मुसलमानों के ISIS से संपर्क हैं तो वह बोलने के लायक भी नहीं रहेंगे।

इस रिपोर्ट के मुताबिक ISIS से जुड़े करीब 20 आतंकवादी नागालैंड में रोहिंग्या उग्रवादियों को ट्रेनिंग देने के लिए घुसपैठ कर चुके हैं। पुलिस की रिपोर्ट के अनुसार ये उग्रवादी नागालैंड में आत्मघाती धमाके और हमले भी कर सकते हैं। इस रिपोर्ट के बाद पुलिस ने दीमापुर में संदिग्ध मुसलमानों की गतिविधियों पर नजर रखने के आदेश भी जारी कर दिये हैं।

कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें

Advertisement :

loading...