Breaking

मंगलवार, 17 अक्तूबर 2017

ये वीडियो देखने के बाद कंपनी में कार की सर्विस करवाने से पहले 100 बार सोचेंगे

 ये वीडियो देखने के बाद कंपनी में कार की सर्विस करवाने से पहले 100 बार सोचेंगे

कार की सर्विस अगर आप कंपनी के ऑथराइज्ड सर्विस सेंटर में करवाते हैं तो ये खबर आपके लिए ही है। नई कार लेने वाले तो इसे खुद पढ़ें और दोस्तों को भी पढ़ाएं। मामला मुंबई के मारुति सुजुकी के सर्विस सेंटर का है। 

एक आदमी ने मारुति बलेनो कुछ महीने पहले ही ली थी। दूसरी सर्विस के लिए वो कार कंपनी में दे आया। अब फ्री सर्विस है तो आदमी कंपनी में ही जाएगा। फिर नई कार में मामला भरोसे का भी होता है। शाम को वह अपनी गाड़ी लेने पहुंचा तो गाड़ी एकदम टनाटन चमकती हुई खड़ी थी। कोई आम आदमी होता तो कार उठाता और चल देता.

33 मिनट का ये वीडियो देखिए-


पर ये आदमी तो खिलाड़ी निकला। इन्होंने कार में एक हिडन कैमरा लगा रखा था। कैमरे की रिकॉर्डिंग खुली तो उसके होश उड़ गए. विडियो देखने पर सामने आया कि कंपनी के मैकेनिकों ने बस गाड़ी धुल-पोंछ के उसे दे दी है। कार सर्विस पर देते वक्त उसने गाड़ी के स्टार्ट होने पर पेट्रोल की महक आने की बात कही थी। सर्विस में उसे तक ठीक नहीं किया गया था। कार का बोनट एक बार खोला गया वो भी बस इंजन के ऊपर पानी मारने के लिए. कोई पार्ट या फ्लुयड तक नहीं चेक किया गया। ऑनलाइन कार कम्युनिटी के सदस्य इस गाड़ी मालिक ने तुरंत जो वीडियो बना था, उसे यूट्यूब पर शेयर कर दिया।

फ्री कूपन में चेकिंग के सारे खानों पर टिक था
सर्विस के बाद कूपन में चेकिंग के सारे खानों टिक थे. (सोर्स- बीएचपी.कॉम )
सर्विस के बाद कूपन में चेकिंग के सारे खानों टिक थे. (सोर्स- बीएचपी.कॉम )
कार वापस ले जाते वक्त गाड़ी मालिक को बाकायदा एक फ्री इंस्पेक्शन कूपन भी दिया गया। उसमें कईं खाने थे, जैसे फ्यूल, इलेक्ट्रिकल, फ्रंट और रियर सस्पेंशन की चेकिंग को लेकर सभी पर टिक था। सबकी चेकिंग का दावा किया गया था, मगर वीडियो तो कुछ और ही कह रहा है। गाड़ी मालिक ने जब कंपनी के मालिक को ये वीडियो दिखाया और शिकायत की तो उसने मामले को दिखवाने की बात कह दी।

पोस्ट हटाने को नहीं तैयार हुआ, केवल आपके लिए

बाद में जब वीडियो सोशल मीडिया पर शेयर होने लगा तो मारुति सुजुकी के जिले से लेकर स्टेट तक के अधिकारियों के फोन आने लगे। सबने माफी मांगी और वीडियो हटाने की रिक्वेस्ट की, मगर गाड़ी मालिक नहीं माना, कहा- लोगों को जागरूक करने के लिए ये जरूरी है। 

सही कहा, जागरूक होना बहुत जरूरी है, अगर आप भी कंपनी में कार सर्विस देने के बाद हाथ हिलाकर निकल लेते हैं तो सावधान हो जाइए। कहीं गाड़ी धुल-पोंछ के न वापस मिल जाए, सही तरीका यही है कि मौके पर डटे रहो और सर्विस अपने आगे ही करवाओ। वरना बनवाते रहना इंजन और कहते रहना गाड़ी बढ़िया है पर एवरेज सही नहीं दे रही।

कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें

Advertisement :

loading...