Breaking

शुक्रवार, 16 फ़रवरी 2018

योगी सरकार का ऐसा खौफ कि अपराधियों ने एसपी के पास जाकर किया कुछ ऐसा कि..


“एक भगवाधारी ने उत्तर प्रदेश की सत्ता क्या संभाली, सारे चोर-बदमाशों ने सन्यास ले लिया !”

जी हां, कुछ ऐसा ही समझ में आ रहा है, जब से यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ बने हैं एनकाउंटर के सहारे यूपी में अपराध कम करने की कवायद में हालत ये हो गयी है कि कई बदमाशों ने शराफत का चोला ओढ़ लिया है। 

हालत कुछ ऐसी भी है कि अपने गृह जनपद को छोड़कर कुछ अपराधी नोएडा में आकर सब्जी की दुकान चला रहे हैं। एक ऐसी ही खबर सामने आई है जिसमें दो अपराधी जिनका नाम सलीम अली और इरशाद अहमद है, उन्होंने एक ऐसी अपील की है जिनसे आपको उनकी हालत का अंदाजा लग जायेगा।

योगी सरकार में खौफ में जी रहे हैं अपराधी

वैसे एक साल पहले तक की बात करें तो पता चलता है कि यूपी में अपराधियों की खूब तूती बोलती थी लेकिन नवभारत टाइम्स की एक खबर के मुताबिक पश्चिमी उत्तर प्रदेश में कैराना के आस-पास गुरुवार को दो लोग हाथ में तख्तियां लेकर घूमते नजर आ रहे थे। इनकी तख्ती में लिखा था कि 'मैं भविष्य में किसी भी आपराध में शामिल नहीं रहूंगा। भविष्य में मैं कठिन परिश्रम करके रुपये कमाऊंगा। कृपया हमें माफ कर दें।' ये दोनों पेशेवर अपराधी हैं। बता दें कि सलीम और इरशाद हत्या और लूट के जैसे कई संगीन मामलों में आरोपी हैं। ये दोनों अभी हाल ही जमानत पर रिहा हुए हैं। ये दोनों अपराधी जेल से रिहा तो हो गये लेकिन अब इन्हें योगी सरकार में अपना एनकाउंटर होने का डर सता रहा है।

“एक भगवाधारी ने उत्तर प्रदेश की सत्ता क्या संभाली, सारे चोर-बदमाशों ने सन्यास ले लिया !”

अपराधियों ने कहा कि “कसम खाते हैं कि…”

कभी दूसरों को डराकर जीने वाले पेशेवर अपराधी अब कैराना में घूम-घूमकर अपनी जान की भीख मांग रहे हैं और शामली के पुलिस अधीक्षक अजय पाल शर्मा को एक शपथ पत्र दिया है। जिसमें कसम खाई है कि “अब हम लोग अपराध छोड़कर एक अच्छा जीवन बिताना चाहते हैं, हम नहीं चाहते हैं कि दूसरे अपराधियों की तरह हमारा भी एनकाउंटर हो, और हम सबकुछ छोड़कर परिवार के साथ शांति से रहेंगे।”

कैराना थाने के प्रभारी ने कहा कि..

इन अपराधियों के बारे में कैराना थाने के प्रभारी भागवत सिंह ने बताया कि “इन दोनों बदमाशों के खिलाफ लूट और हत्या को लेकर 9 मामले दर्ज हैं।” वहीं शामली जिले के एसपी ने कहा कि, “सलीम और इरशाद एक शपथ पत्र के साथ मुझसे मिले थे, और ये अच्छा ही है कि वो अपराध से दूर होकर अच्छा जीवन बिताना चाहते हैं।”


शामली के एसपी अजय शर्मा बने एनकाउंटर स्पेशलिस्ट

एसपी अजय पाल शर्मा के बारे में कहा जा रहा है कि पिछले 6 महीनों में शामली में उन्होंने 6 से ज्यादा अपराधियों को एनकाउंटर में मार गिराया है और इसी वजह से उनपर एनकाउंटर स्पेशलिस्ट का ठप्पा लगा हुआ है।

कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें

Advertisement :

loading...