Breaking

सोमवार, 19 मार्च 2018

यूपी बोर्ड की परीक्षाओं में नहीं हुई नकल तो... कमजोर छात्रों ने पास होने के लिए चुना ये रास्ता

जिन बच्चों का पेपर खराब हुआ है वह कॉपियों में 50 और 100 के नोट लगाकर शिक्षकों को लुभाने के लिए आकर्षक बातें भी लिख गए हैं

उत्तर प्रदेश माध्यमिक बोर्ड की 12वीं की परीक्षा की कॉपियों का मूल्यांकन फिरोजाबाद के तिलक इंटर कॉलेज में किया जा रहा है। इन कॉपियों में हर बार की तरह इस बार भी बच्चों की नंबर देने की रिक्वेस्ट के साथ-साथ पैसे निकलने की घटना सामने आ रही है। बताया जा रहा है कि जिन बच्चों का पेपर खराब हुआ है वह कॉपियों में 50 और 100 के नोट लगाकर शिक्षकों को लुभाने के लिए आकर्षक बातें भी लिख गए हैं।


'गरीब छात्र' ने पास करने के लिए कॉपी में रखा 50 रुपये का नोट
मूल्यांकन केन्द्र पर आई ऐसी ही एक कॉपी में एक छात्र ने लिखा है, "मेरी तबीयत खराब है मैं अच्छे से तैयारी नहीं कर सका, गुरुजी मुझे पास करा दें, मैं गरीब हूं", और इसी के साथ उसकी उत्तर पुस्तिका में 50 का नोट भी लगा हुआ है। शिक्षकों का कहना है कि इस तरह से कॉपियों में रुपए निकल रहे हैं। जिससे शिक्षकों को लालच देने का प्रयास किया जा रहा है। वहीं मूल्यांकन कक्ष में कमियां भी देखने को मिली हैं कि मुल्यांकन कमरों में सीसीटीवी कैमरे तो लगे हैं लेकिन उनके कनेक्शन नदारद हैं।

जिनके पेपर हुए खराब उन छात्रों ने किया नोट का इस्तेमाल
यह हाल उत्तर प्रदेश के फिरोजाबाद जिले का है, जहां पर यूपी बोर्ड की 12वीं कक्षा की कॉपियों की जांच चल रही है। दरअसल, इस बार नकलविहीन परीक्षा हुई है। जिस कारण छात्रों में हड़कंप है. फिरोजाबाद के तिलक इंटर कॉलेज में जांची जा रही कॉपियों में शिक्षकों को लुभाने के उद्देश्य से 100, 50 और 500 के नोट निकल रहे हैं. शिक्षकों का कहना है कि दरअसल जिन बच्चों के पेपर खराब हुए हैं वह संदेश भी लिख कर दे रहे हैं साथ ही रुपए भी लगे हैं। अब शिक्षकों की समझ में यह नहीं आ रहा कि इन रुपयों का क्या करें।

मतदान केन्द्रों पर सीसीटीवी मिले खस्ताहाल
मूल्यांकन केन्द्रों पर एक अव्यवस्था भी देखने को मिली। केन्द्र के कक्षों में सीसीटीवी कैमरे तो लगे मिले हैं लेकिन उनका कनेक्शन ही नहीं हुआ है। सीसीटीवी कनेक्शन के तार टूटे पड़े हैं, जब मीडिया ने इस बारे में शिक्षकों से पूछा तो उन्होंने कुछ भी बोलने से मना कर दिया, कुछ कमरों की हालत तो ऐसी खराब है कि वहां पंखे भी नहीं लगे हैं। जिस वजह से बेहद गर्मी में शिक्षक कॉपियों का मूल्यांकन कर रहे हैं।

शिक्षक पूरी निष्ठा के साथ जांच रहे हैं कॉपियां
मूल्यांकन केन्द्र पर उत्तरपुस्तिकाओं की जांच कर रहे एक शिक्षक राजेश कुमार ने मीडिया से हुई बातचीत में कहा कि वह कॉपी जांच रहे हैं जिसमें रुपये निकल रहे हैं। मेरे कई और साथियों की कॉपियों में भी रुपए निकल रहे हैं, संदेश साफ है कि शिक्षकों को लुभाने का प्रयास है लेकिन हम पूर्ण निष्ठा से कॉपियां जांच रहे हैं।

कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें

Advertisement :

loading...