Breaking

सोमवार, 30 अप्रैल 2018

#KathuaKaSatya : JK पुलिस के अनुसार विशाल ने 580 KM की दुरी 53 मिनट में तय कर लिया और असीफा से अपराध किया

#KathuaKaSatya : According to JK police, Vishal had fixed the distance of 580 kms in 53 minutes and committed crime with Asifa

गज़ब का स्क्रिप्ट लिखा है जम्मू कश्मीर की पुलिस ने औअर गज़ब का खेल चलाया है भारत की मीडिया ने, निर्दोशो को फंसाया जा रहा है, जम्मू कश्मीर की पुलिस बार बार अपना चार्ज शीट क्यों बदलती है कठुवा के मामले में ये भी आपको अभी पूरा समझ में आ जायेगा।

कठुवा मामले में विशाल जन्गोत्रा नाम के हिन्दू युवक को जम्मू कश्मीर की पुलिस ने असीफा का मुजरिम बताकर पकड़ा हुआ है, हालाँकि डाक्टर की रिपोर्ट बता चुकी है की असीफा के साथ रेप नहीं हुआ, फिर भी जम्मू कश्मीर की पुलिस ने विशाल और अन्य हिन्दुओ को रेप के आरोप में पकड़ा और बार बार चार्जशीट को बदला।

विशाल जन्गोत्रा भी जेल में है, इस युवक की जिंदगी से कैसा खिलवाड़ किया जा रहा है, ये देखकर आप चौंक जायेंगे, जम्मू कश्मीर की पुलिस ने जो चार्ज शीट तैयार किया है उसके मुताबिक विशाल जन्गोत्रा ने ही असीफा के शरीर को फेंका, उसने असीफा के शरीर को शाम को 4 बजे फेंक दिया जब उसकी हत्या कर दी गयी, ऐसा जम्मू कश्मीर की पुलिस का चार्ज शीट कहता है।

दूसरी तरफ तथ्य ये है की विशाल जन्गोत्रा मेरठ में परीक्षा दे रहा था, जम्मू कश्मीर की पुलिस भी इस बात को झुठला नहीं सकी, पर पुलिस ने कहा की मेरठ से वापस आकर कठुवा में विशाल ने अपराध किया अब आप ध्यान से कुछ चीजो को देखिये। 

मेरठ में जो परीक्षा दी गयी है, उसके हैण्ड राइटिंग को मिलाया गया है, सारी कॉपी विशाल ने खुद लिखी थी, वो दिन भर मेरठ में ही था, पर पुलिस ने इस बात को नहीं माना।

विशाल जब मेरठ गया था तब उसने वहां के एक एटीएम से अपने लिए कुछ पैसे भी निकाले थे, अब एटीएम में कैमरा लगा था, कैमरे में विशाल पैसा निकालते हुए भी देखा गया, उसके बैंक रिकॉर्ड ने भी बता दिया, और विशाल ने मेरठ के एटीएम से पैसा निकाला 3 बजकर 7 मिनट पर, उसके बैंक रिकॉर्ड में भी ये समय दर्ज है।

#KathuaKaSatya : According to JK police, Vishal had fixed the distance of 580 kms in 53 minutes and committed crime with Asifa

यहाँ आपको गौर करना चाहिए की जम्मू कश्मीर पुलिस कहती है की विशाल ने 4 बजे कठुवा में बच्ची का शरीर फेंका, मेरठ और कठुवा की दुरी कोई 580 किलोमीटर से भी ज्यादा है, यानि विशाल ने 53 मिनट में मेरठ से कठुवा का सफ़र तय कर लिया, और अपराध भी कर लिया और बच्ची के शरीर को फेंक दिया।

ये तो गज़ब का स्क्रिप्ट चला रही है जम्मू कश्मीर की पुलिस, एक निर्दोष को बुरी तरह फंसाया जा रहा है, जब सीबीआई की मांग की जाती है तो महबूबा मुफ़्ती और मीडिया चुप हो जाती है, महबूबा और मीडिया सीबीआई जांच क्यों नहीं चाहती ये आपको अब समझ में भी आ गया होगा, निर्दोष युवकों को मीडिया और महबूबा मिलकर फंसा रहे है, अब देश को विशाल जो की पूर्ण निर्दोष है, उसके साथ खड़ा होने की जरुरत है।

कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें

Advertisement :

loading...