Breaking

Friday, February 1, 2019

गुजरात में बन रहा है दुनिया का सबसे बड़ा क्रिकेट स्टेडियम, 700 करोड़ की आएगी लागत

गुजरात में बन रहा है दुनिया का सबसे बड़ा क्रिकेट स्टेडियम, 700 करोड़ की लागत से बन रहे इस स्टेडियम की क्षमता ऑस्ट्रेलिया के मेलबोर्न क्रिकेट स्टेडियम से अधिक यानी 1,10,000 से अधिक दर्शक मैच का लुत्फ उठा सकेंगे।

गुजरात के नाम के साथ एक और विश्व रिकॉर्ड बनने जा रहा है। इस नए रिकॉर्ड का माध्यम बन रहा है अहमदाबाद स्थित सरदार पटेल मोटेरा क्रिकेट स्टेडियम। फिलहाल तो इस क्रिकेट स्टेडियम में पुन:निर्माण की प्रक्रिया जोरशोर से चल रही है। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह का यह ड्रीम प्रोजेक्ट इस वर्ष के अंत तक के पूरा होने की उम्मीद है।

बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने इस भव्य स्टेडियम के निर्माण कार्य की प्रगति के सिलसिले 15 जनवरी को दौरा किया था। 700 करोड़ की लागत से बन रहे इस स्टेडियम की क्षमता ऑस्ट्रेलिया के मेलबोर्न से अधिक यानी 1,10,000 से अधिक दर्शक मैच का लुत्फ उठा सकेंगे। मोटेरा में बन रहे यह क्रिकेट स्टेडियम को 63 एकड़ जमीन पर आकार दिया जा रहा है। आइये देखते हैं और क्या खासियत है मोटेरा क्रिकेट स्टेडियम की: 
  
इस स्टेडियम को पुराने स्थान पर ही फिर से बनाया जा रहा है। वर्ष 2015 के अंत में इस स्टेडियम को तोड़ने का काम शुरू किया गया। इस स्टेडियम के पुनर्निर्माण का ठेका लार्सन एंड टर्बो (L&T) को दिया गया है। L&T ने इस स्टेडियम को नया अवतार देने की शुरुआत मार्च 2017 में की जिसका खर्च 700 करोड़ बताया जा रहा है। 

नए स्टेडियम में अब 1,10,000 दर्शक एक साथ बैठकर मैच का लुत्फ उठा पाएंगे। इस स्टेडियम की एक खासियत यह भी है कि इसके चारों तरफ कोई और पिलर नहीं बनाया गया, जिससे मैच के दौरान किसी भी कोने में बैठकर बिना किसी बाधा के मैच का लुत्फ उठाया जा सकेगा। म्यूजिक सिस्टम के साथ यह मैदान को तैयार किया जाएगा। पूरे मैदान में एलईडी लाइट भी लगाई जाएंगी। 



इस मैदान को तैयार करने के लिए 3000 जितने लोग काम कर रहे हैं। छह बड़ी क्रेन का सहारा भी लिया जा रहा है। एक क्रेन का भाड़ा प्रतिदिन दो लाख रुपये है। स्टेडियम में 76 कॉर्पोरेट बोक्स भी बनाए गए है। हर एक कॉर्पोरेट बॉक्स में खाने-पीने की व्यवस्था के साथ वॉशरूम, सोफासेट, टीवी और साथ में ही 20-25 लोगों के लिए बैठक व्यवस्था भी रखी गई है। कोई दिक्कत ना हो उसके लिए दो बड़े जनरेटर की भी व्यवस्था की जाएगी। मैदान में प्रवेश करने के लिए मुख्यद्वार तो रहेगा ही, मैच ख़त्म होने के बाद मैदान के पिछले हिस्से से भी लोगों को बहार निकलने का मार्ग भी दिया जाएगा। 20 खिलाड़ी एक साथ अपनी किट रख पाएंगे। उसके लिए 4 बड़े ड्रेसिंगरूम की व्यवस्था भी की गई है। 

मोटेरा क्रिकेट स्टेडियम के साथ ही एक क्लब हाउस भी बनाया जाएगा। क्लब हाउस में अंतरराष्ट्रीय स्तर का स्वीमिंग पुल, रेस्टोरेंट, बेंक्वेट हॉल तथा हर किस्म की इनडोर गेम खेली जा सके ऐसी व्यवस्था की जा रही है। इस कल्ब हाउस में 55 भव्य रूम भी बनाए जा रहे हैं। 

इस बारे में जानकारी देते हुए GCA के उपाध्यक्ष परिमल नथवानी ने कहा कि मोटेरा स्टेडियम बन जाने के बाद लॉर्ड्स के स्थान पर इस मैदान को क्रिकेट का मक्का माना जाएगा. इस मैदान में 3 हजार कार और 12 हजार दो पहिया वाहन पार्क करने की व्यवस्था भी की गई है। साथ ही में तीसरे प्रवेश द्वार का निर्माण, कॉर्पोरेट बॉक्स की बिक्री तथा GCA और BCCI द्वारा मिलने वाली सहायता से किया जाएगा। 2019 के अंत तक गुजरात के नाम के साथ एक और विश्व रिकॉर्ड जुड़ेगा जो केवल गुजरात ही नहीं बल्कि विश्वजगत में भारत का भी नाम ऊंचा करेगा।

No comments:

Post a Comment

Advertisement :

loading...