Breaking

Friday, February 1, 2019

मनी लॉन्ड्रिंग मामले में गिरफ्तारी से बचने के लिए राबर्ट वाड्रा ने लगाई अग्रिम जमानत याचिका

मनी लॉन्ड्रिंग मामले में गिरफ्तारी से बचने के लिए राबर्ट वाड्रा ने लगाई अग्रिम जमानत याचिका

मनी लॉन्ड्रिंग के एक मामले में रॉबर्ट वाड्रा ने दिल्ली के पटियाला हाउस कोर्ट में अग्रिम जमानत याचिका दायर की है। प्राप्त जानकारी के अनुसार, इस याचिका पर शनिवार को सुनवाई होगी। गौरतलब है कि रॉबर्ट वाड्रा कांग्रेस नेता प्रियंका गांधी वाड्रा के पति हैं। दरअसल, मनी लॉन्ड्रिंग का यह मामला वाड्रा के करीबी सुनील अरोड़ा से जुड़ा हुआ है। वाड्रा ने इसी मामले में गिरफ्तारी से बचने के लिए अग्रिम जमानत याचिका लगाई है।

लंदन की प्रॉपर्टी से जुड़ा है यह कथित मनी लॉन्ड्रिंग मामला
गौरतलब है कि राबर्ट वाड्रा के करीबी कहे जाने वाले सुनील अरोड़ा के खिलाफ ईडी (प्रवर्तन निदेशालय) ने मनी लॉन्ड्रिंग का केस दर्ज किया है। इस मामले में सुनील अरोड़ा को कोर्ट ने 6 फरवरी तक के लिए गिरफ्तारी से अंतरिम राहत दी है। दरअसल, यह मामला लंदन के 12, ब्रायनस्टन स्कवायर स्थित 19 लाख पाउंड (करीब 17 करोड़ रुपये) की एक प्रॉपर्टी की खरीदारी में हुए कथित मनी लॉन्ड्रिंग से जुड़ा है। ईडी ने दावा किया है कि इस संपत्ति के असली मालिक राबर्ट वाड्रा हैं। 

भगोड़े डिफेंस डीलर संजय भंडारी पर भी दर्ज है मुकदमा
ईडी ने कोर्ट में बताया कि लंदन स्थित इस प्रॉपर्टी को भगोड़े डिफेंस डीलर संजय भंडारी ने खरीदा था। भंडारी ने यह प्रॉपर्टी 16 करोड़ 80 लाख रुपये में खरीदा था। ईडी के अनुसार, भंडारी ने 2010 में इसी कीमत पर इसकी बिक्री वाड्रा के नियंत्रण वाली फर्म को कर दी थी। ईडी ने बताया कि इस प्रॉपर्टी में मरम्मत के लिए इस पर 65,900 पाउंड का अतिरिक्त खर्चा हुआ था। बावजूद इसके भंडारी ने इस प्रॉपर्टी की बिक्री कर दी थी। गौरतलब है कि भंडारी के खिलाफ ऑफिशल सीक्रेट ऐक्ट के तहत 2016 में मुकदमा दर्ज किया था। 

(इनपुट भाषा से) 

No comments:

Post a Comment

Advertisement :

loading...