Breaking

बुधवार, 7 अक्तूबर 2020

हमारी सरकार होती न, तो चीन को 15 मिनट में उठा कर बाहर फेंक देते: राहुल गाँधी ने PM मोदी को बताया ‘कायर’

राहुल गाँधी, चीन, मोदी

हाथरस में हुए सियासी ड्रामे और हरियाणा में कृषि बिलों में विरोध में ट्रैक्टर रैली करने के बाद पूर्व कॉन्ग्रेस अध्यक्ष राहुल गाँधी अब एक बार फिर से चीन वाले राग पर लौट आए हैं और पीएम मोदी के लिए भी आपत्तिजनक भाषा का उपयोग किया है। उन्होंने दावा किया कि भारत दुनिया का एकमात्र ऐसा देश है, जहाँ किसी दूसरे देश की सेना ने घुस कर यहाँ की जमीन पर कब्ज़ा कर रखा है। राहुल गाँधी ने कहा कि अगर उनकी सरकार होती तो वो चाइना को 15 मिनट में उठा कर बाहर फेंक देते।

उन्होंने कहा कि पूरा देश जानता है कि चीन भारत के अंदर घुसा हुआ है। उन्होंने पीएम मोदी पर तंज कसते हुए कहा कि वो अपनेआप को देशभक्त कहते हैं और साथ ही पूछा कि वो कैसे देशभक्त हैं? राहुल गाँधी ने प्रधानमंत्री के लिए ‘कायर’ शब्द का भी इस्तेमाल किया। हरियाणा के कुरुक्षेत्र में शेखी बघारते हुए राहुल गाँधी ने कहा कि अगर उनकी सरकार होती तो चीन को भारत में एक कदम भी नहीं रखने देती।

उन्होंने दावा किया कि चीन बाहर से देख रहा है कि नरेंद्र मोदी ने देश को कमजोर कर दिया है, इसीलिए उसमें इतनी हिम्मत आ गई कि उसने भारत की जमीन पर कब्ज़ा कर लिया। राहुल ने पीएम मोदी को ‘फेल’ बताते हुए आरोप लगाया कि उन्होंने देश के किसानों एवं मजदूरों को कमजोर कर दिया है। राहुल गाँधी ने अपनी ‘खेती बचाओ यात्रा’ के दौरान कुरुक्षेत्र के गीता स्थल पर प्रार्थना भी की।

राहुल गाँधी ने अपनी 3 दिवसीय यात्रा के दौरान कहा कि पीएम मोदी को इस बात से कोई फर्क नहीं पड़ता है कि देश में क्या हो रहा है और वो केवल अपनी छवि बचाने में लगे रहते हैं। उन्होंने कृषि क़ानूनों को लेकर दावा किया कि इससे न सिर्फ किसानों बल्कि उपभक्ताओं पर भी बड़ा फर्क पड़ेगा। उन्होंने यहाँ तक आरोप लगा दिया की पीएम मोदी नए कृषि कानूनों को समझते तक नहीं हैं। उन्होंने बिना सबूतों के दावा किया कि चीन ने भारत के 1200 वर्ग किलोमीटर जमीन पर कब्ज़ा कर रखा है।

हाल ही में संबित पात्रा ने कहा था कि जिस तरह से इश्क और मुश्क छिपाने से भी नहीं छिपते, ठीक वैसे ही कॉन्ग्रेस और चीन के बीच चल रहे प्रेम के बारे में सभी को पता है। उन्होंने दावा किया था कि चीन की कम्युनिस्ट पार्टी और भारत की कॉन्ग्रेस पार्टी के बीच समझौते हुए हैं, जिसकी जानकारी अब सार्वजनिक की जानी चाहिए। ‘ग्लोबल टाइम्स’ ने अपनी रिपोर्ट में विशेषज्ञों के हवाले से कहा था कि कॉन्ग्रेस पार्टी मोदी सरकार के खिलाफ मुखर है।


कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें

Advertisement :

loading...