Breaking

मंगलवार, 6 अक्तूबर 2020

हाथरस कांड के खिलाफ प्रदर्शन के दौरान ही आपस में भिड़ गए कॉन्ग्रेस कार्यकर्ता, जमकर हुई जूतमपैजार: देखें VIDEO

कॉन्ग्रेस मुंबई

हाथरस कांड पर पूरे देश में उबाल देखने को मिल रहा है। सभी विपक्षी पार्टियाँ इस मुद्दे पर अपनी राजनीति चमकाने की जुगत में लगे हैं। हर जगह विपक्षी पार्टियाँ इसी मुद्दे पर विरोध प्रदर्शन करती आ रही है। इसी क्रम में कई जगहों से हिंसा की खबरें भी सामने आ रही है। ताजा मामला मुंबई का है।

सोमवार (अक्टूबर 5, 2020) को मुंबई के वसई में उस समय बेहद ही अलग नजारा देखने को मिला, जब प्रदर्शन के दौरान कॉन्ग्रेस कार्यकर्ता आपस में ही भिड़ गए और जमकर जूतमपैजार हुए। इसका एक वीडियो वायरल हो रहा है। इसमें देखा जा सकता है कि कॉन्ग्रेस कार्यकर्ता कैसे आपस में ही लड़ रहे हैं।

कोई किसी का कॉलर पकड़ कर मार रहा है तो कोई घूँसा चला रहा है। वहीं कुछ लोग छुड़ाने का प्रयास कर रहे हैं। सोशल मीडिया पर दावा किया जा रहा है कि कॉन्ग्रेस कार्यकर्ताओं के बीच यह जूतमपैजार इस बात को लेकर हुई कि बैनर कौन पकड़ेगा।

इस वीडियो के सामने आने के बाद सोशल मीडिया यूजर्स इसके खूब मजे ले रहे हैं और इस पर अपनी प्रतिक्रिया दे रहे हैं। ज्योति खाड़े नाम की एक सोशल मीडिया यूजर ने लिखा कि पप्पू के कार्यकर्ता पप्पू को कड़ी टक्कर दे रहे हैं।

वहीं एक यूजर ने लिखा, “प्रोटेस्ट में प्रोटेस्ट।”

एक अन्य सोशल मीडिया यूजर ने लिखा, “क्या बात है। शायद इसलिए कर रहे हैं कि आने वाले समय में उन्हें ये मौका दोबारा मिले या ना मिले।” इस पर प्रतिक्रिया देते हुए एक यूजर ने लिखा कि ऐसा ही कुछ लग रहा है।

गौरतलब है कि इससे पहले छत्तीसगढ़ के जांजगीर-चंपा जिले में भी ऐसा ही कुछ नजारा देखने को मिला था। यहाँ योगी सरकार का विरोध करते-करते कॉन्ग्रेस और भीम आर्मी वाले आपस में झगड़ पड़े। विरोध प्रदर्शन के दौरान दोनों दलों के बीच जमकर मारपीट शुरू हो गई।

जानकारी के मुताबिक भीम आर्मी ने विरोध प्रदर्शन के दौरान कॉन्ग्रेस पार्टी के ख़िलाफ नारेबाजी करनी शुरू कर दी थी, इसी के कारण दोनों दलों में झड़प हुई। प्रदर्शन के दौरान भीम आर्मी के सदस्यों ने छत्तीसगढ़ में कॉन्ग्रेस सरकार के खिलाफ दलित विरोधी होने का आरोप लगाते हुए नारेबाजी की, जिसके कारण कॉन्ग्रेस कार्यकर्ता भड़क गए। नतीजतन, दूसरी ओर से भी भीम आर्मी पर हमला बोल दिया गया।

पुलिस अधिकारी ने इस संबंध में कहा था, “कॉन्ग्रेस कार्यकर्ता हाथरस मामले में प्रदर्शन कर रहे थे। इस बीच भीम आर्मी वाले आ गए और उनके ख़िलाफ़ नारेबाजी करनी शुरू कर दी। इसके बाद ही हिंसा भड़की।”



कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें

Advertisement :

loading...